ऑक्सीकरण , अपचयन oxidation , reduction in hindi

* ऑक्सीकरण (Oxidation):-
कोई ऐसी अभिक्रिया जिसमें इलेक्ट्रॉन निर्मुक्त (free) हो जाते हैं , उसे ऑक्सीकरण या ऑक्सीकरण अभिक्रिया कहते हैं ।

उदाहरण :-
सोडियम (Na) की अभिक्रिया कराने पर इसमें से एक इलेक्ट्रॉन (e-) मुक्त हो जाता है ।
MYEDUCATIONWIN.COM IMAGE
ऑक्सीकरण संख्या :-
"Oxidation Numer"
ऑक्सीकरण संख्या वह संख्या होती है जो किसी अणु या आयन पर परमाणु के आवेश जैसे धनात्मक , ऋणात्मक या किसी अन्य आवेश के बारे में बताती है ।   
उदाहरण :-
मेथेन (CH4) में कार्बन की संयोजकता 4 है , जबकि कार्बन की ऑक्सीकरण संख्या क्रमश: -4 , -2 , 0 , +2 , +4 होती है । 


ऑक्सीकरण अभिक्रिया :-
(Oxidation Reaction )
वह अभिक्रिया जिसमें किसी पदार्थ के किसी तत्व की धनात्मक ऑक्सीकरण संख्या में वृद्धि  तथा ऋणात्मक ऑक्सीकरण संख्या में कमी होने को ऑक्सीकरण अभिक्रिया कहते हैं ।

* अपचयन (Reduction) :-
वे अभिक्रियाऐं जिनमे इलेक्ट्रॉन से संयोजन होता है । अपचयन कहलाता है ।

MYEDUCATIONWIN.COM IMAGE

* रेडॉक्स अभिक्रिया Redox reaction :-
वह रासायनिक अभिक्रिया जिसमें ऑक्सीकरण और अपचयन साथ - साथ होता है । ऑक्सीकरण - अपचयन अभिक्रिया या रेडॉक्स अभिक्रिया कहलाती है ।
इस अभिक्रिया में जिस पदार्थ का ऑक्सीकरण होता है उसे अपचयन कहते हैं और जिस पदार्थ का अपचयन होता है उसे ऑक्सीकरण कहते हैं ।

उदाहरण :-

2Hgcl2  +  SnCl2  ---->  HgCl2  +  Sncl4

इस अभिक्रिया में HgCl2 , Sncl2 को SnCl4 ,  में ऑक्सीकृत कर देता है  , इसलिए HgCl2 एक ऑक्सीकारक की तरह कार्य करता है तथा SnCl4 एक अपचायक की तरह कार्य करता है .


Note : कोई ऐसा यौगिक जो किसी दूसरे यौगिक के साथ अभिक्रिया करके उसको बदल देता है वह ' ऑक्सीकारक ' होता है | और वह  यौगिक  जो दूसरे यौगिक के साथ बदल जाता है वह ' अपचायक ' होता है |  



ऑक्सीकरण , अपचयन oxidation , reduction in hindi ऑक्सीकरण , अपचयन  oxidation , reduction in hindi Reviewed by suresh kumar gautam on June 06, 2017 Rating: 5

No comments

Featured