भोजन क्या है In Hindi

Food

What is food ?
वे  सभी  पदार्थ  जो  मानव  शरीर  की  जीवन  क्रियाओं  को  सुचारु  रुप  से  संचित  करने  ,  शरीर  को  ऊर्जा  प्रदान  करने  तथा  शरीर  की  वृद्धि  करने  में  सहायक  होते  हैं ।  भोजन  कहलाते  हैं ।

भोजन  के  प्रकार  (Types of food) :-
भोजन  विभिन्न  प्रकार  के  हो  सकते  हैं  जैसे  -

1. कार्बोहाइड्रेट  ( Carbohydrate )
2.  तेल  और  वसा  ( Oil  &  Fat )
3.  प्रोटीन  ( Protein )
4. विटामिन  ( Vitamin )
5. खनिज  लवण  ( Mineral  Salt )
6. जल  ( Water )
7. संतुलित  भोजन  ( Balanced  Diet )

1. कार्बोहाइड्रेट  ( Carbohydrate ) :-
कार्बोहाइड्रेट  C  ,  H  ,  O  ( carbon  ,  hydrogen  ,  oxygen )  से  बने  कार्बनिक   यौगिक  होते  हैं  ।
"  वे  कार्बनिक  यौगिक  जिनमें  पॉली  - हाइड्रॉक्सी  ऐल्डिहाइड  व  किटोन  समूह  होते  हैं  ,  या  वे  यौगिक  जिनके  जल  अपघटन  पर  पॉली - हाइड्रॉक्सी  ऐल्डिहाइड  या  कीटोन  प्राप्त  होते  हैं  ।  कार्बोहाइड्रेट  कहलाते  हैँ  ।

उदाहरण  :-  ग्लुकोस  ,  फ्रक्टोस  ,  स्यूक्रोज  ,  माल्टोज  ,  लेक्टोज  आदि  ।

भोजन में कार्बोहाइड्रेट का महत्व (Importance) :-
A. कार्बोहाइड्रेट  भोजन  का  प्रमुख  अवयव  है  ।  और  यह  एक  ऊर्जा  का  स्त्रोत  होता  है  ।
B.  ये  वसा  तथा  प्रोटीनों  के  संश्लेषण  में  सहायक  होते  हैं  ।

कार्बोहाइड्रेट के स्त्रोत (source of carbohydrate) :-
मीठे  फल  ,  शहद  ,  स्टार्च  ,  गन्ने  की  शर्करा  ,  अंकुरित  जौ  ,  दूध  ,  चावल  ,  मक्का  ,  आलू  , आदि  ये  सभी  कार्बोहाइड्रेट  के  स्त्रोत  हैं  ।

2. तेल तथा वसा (Oil & Fat ) :-

तेल  ( Oils )  :-
वे  ग्लिसराइड  जिनमें  उपस्थित  वसा  अम्ल  असंतृप्त  होते  हैं  ,  तेल  कहलाते  हैं  ।

वसा  ( fats )  :-
वे  ग्लिसराइड  जिनमें  उपस्थित  वसा  अम्ल  संतृप्त   होते  हैं  ,  वसा  कहलाते  हैं  ।

भोजन  में  तेल  तथा  वसा का  महत्व  :-
A. वसा  शरीर  को  चिकना  व  सुन्दर  बनाती  है ।
B. तेल  तथा  वसा  साबुन  और  औषधियाँ  बनाने  के  लिए  उपयोग  किये  जाते  हैं  ।

स्त्रोत  ( Source ) :-
तेल  के  स्त्रोत  ,  जैसे  :  सरसो  ,  तिल  ,  सूरजमुखी  आदि  ।
वसा  के  स्त्रोत  ,  जैसे :  घी  ,  मख्खन  ,  पनीर  ,  माँस  ,  अण्डा  आदि  ।

3. प्रोटीन  ( Protein ) :-
उच्च  अणुभार  वाले  नाइट्रोजन  युक्त  वे  जटिल  कार्बनिक  यौगिक  ,  जो  जन्तुओं  और  वनस्पतियों  की  जीवित  कोशिकाओं  में  उपस्थित  जीवद्रव्य  या  प्रोटोप्लाज्म  में  पाये  जाते  हैं  ।  प्रोटीन  कहलाते  हैं  ।  प्रोटीन  को  हमारे  शरीर  की  संरचनात्मक  इकाई  माना  जाता  है  ,  प्रोटीन  हमारे  शरीर  में  नये  ऊतकों  (Tissue )  ,  RNA  ,  DNA  का  निर्माण  करती  है  ।  प्रोटीन  हमारे  शरीर  में  एन्जाइमों  तथा  हॉरमोनों  का  संश्लेषण  भी  करते  हैं  ।

प्रोटीन के स्त्रोत (Source Of Protein ) :-
 सोयावीन  ,  मख्ख़न  ,  मटर  ,  दूध  ,  अण्डा , माँस  आदि  ,  ये   सभी  प्रोटिन  के  अच्छे  स्त्रोत  हैं ।

4. खनिज  लवण (Mineral Salt) :-
शरीर  मे  होने  वाली  रासायनिक  अभिक्रया  में  खनिज  लवणों  का  भी  एक  महत्वपूर्ण  योगदान  होता  है  ,  क्योकिं  ये   लवण  अम्लीय  तथा क्षारीय  माध्यम  उत्पन्न करने  में  सहायता  करते  हैं  ।  इसके  अतिरिक्त  चेतना  संवेदन  ह्रदय  स्पन्दन  आदि  में  भी  ये  एक  महत्वपूर्ण  योगदान  रखते  हैं  ।

खनिज  लवण  के  स्त्रोत  :- 
 नमक  ,  फल   वाली  सब्जियाँ  ,  सोयावीन  , मछली  ,  पनीर  ,  दूध  ,  अण्डा  ,  हरी  सब्जियाँ  आदि  ,  ये  सभी  खनिज  लवण  के  स्त्रोत  हैं ।

5. विटामिन  (Vitamins ) :-
वे कार्बनिक  यौगिक  जो  जन्तुओं  तथा  मानव  शरीर  में  होने  वाली  वृद्धि  तथा  जीवन - क्रियाओं  को  सुचारु  रुप  से  संचालित  करने  के  लिये  आवश्यक  होते  हैं  ,  विटामिन  कहलाते  हैं  ।
ये  विटामिन  दो  प्रकार  के  होते  हैं  ।

1. वसा  मे  घुल  जाने  वाले  विटामिन  (Fat  soluble  vitamins  ) :
 जैसे - विटामिन  A  ,  D  ,  E  ,  K  आदि  ,  ये  सभी  Fat  soluble  vitamins  होते  हैँ  ।

2. जल  में  विलेय  विटामिन  ( Water soluble vitamins ) :
जैसे  विटामिन  B - कॉम्पलेक्स  तथा  विटामिन  C  आदि  ,  ये  Water  soluble  vitamins  होते  हैं  ।

विटामिन  के  स्त्रोत  ( Source  Of  Vitamin  )  :-
दूध  ,  मख्खन  ,   हरी  सब्जियाँ  ,  माँस  ,  ये  सभी  विटामिन  के  स्त्रोत  हैं  ।

6. जल  ( Water )  :-
जल  भोजन  का  एक  महत्वपूर्ण  अवयव  होता  है ।  यह  भोजन  के  विभिन्न  अवयवों  के  लिये  एक  अच्छे  विलायक  का  कार्य  करता  है  ।  जीवों  के  शरीर  मेँ  जल  की  मात्रा  60  से  90 %  तक  होती  है  ।
जल  हमारे  भोजन  के  पाचन  तथा  अवशोषण  में सहायक  होता  है  ।  जल  हमारे  शरीर  के  ताप  को  नियन्त्रित  ( Control )  करता  है  ।

7. संतुलित भोजन ( Balanced Diet)  :-
वह भोजन जिसमें मानव शरिर के लिए अवश्कतानुसार खाद्य पदार्थो में कार्बोहाइड्रेट , प्रोटीन , वसा , विटामिन आदि एक समुचय मात्रा में उपस्थित होते हैं । उसे संतुलित भोजन कहते हैँ । प्रतिदिन एक सामान्य व्यक्ति को 2800 कैलोरी की आवश्यकता होती है । जिससे हमारा शरीर स्वस्थ रहता है ।

भोजन क्या है In Hindi भोजन क्या है In Hindi Reviewed by suresh kumar gautam on March 18, 2017 Rating: 5

No comments

Featured